Dopehar Mei Nind lene ki fayede ~ दोपेहर मे नींद लेने की फायदे

अगर आपको दिल से जुड़ि कोई समस्या हे तो, दोपहर मे लीजिए थोड़ासा नींद।

Heart ko swasth kaise rakhe - दिल को स्वस्थ कैसे रखे
हफ्ते मे एक से दो दीन दोपहर मे थोड़ासा नींद लेने से हौ सकती हे आपके हार्ट का फायदा।

बोहत सारे ऐसे लॉग हे जिन्हें दोपहर मे नींद लेने की आदत हे। खास कर बंगाल के लोगो को। दौपेहर मे भात, डाल और सब्जी खा के सीधा 1 से 2 घंटे का नींद ले लेते हे। लेकिन कोई लॉग एसा भी हे जो दोपेहर खाने के बाद नेही शोते क्यूँ की उसे ऑफीस बगेरा का काम रेहती हे या फिर उसे आदत नेही हे। इसी नींद लेने को लेकर हल ही मे एक अध्ययन किया गया हे। इस अध्ययन का लक्ष था की एक बयस्क ब्याक्ति एक हफ्ते दोपहर मे कितने दीनो ओर कितने देर तक नींद लेते हे और इस नींद का उनके शरीर पर क्या असर पड़ता हे ये देखना।
अगर आप दोपहर मे शोने बाले लोगो मे से एक हे तो आपके लिए एक अच्छी ख़बर हे। 'दि टाइम्स' ने अपने सर्वे मे ये पाया हे की जो लॉग दोपेहर मे थोड़ा नींद लेते हे उनका हार्ट अटैक होने का खातरा कम होता हे। और जो लॉग दोपहर मे नींद नेही लेते उनका हार्ट अटैक होने का खातरा दोपहर मे नींद लेने बाले लोगो से ज्यादा हे।

आपको साथ ही साथ ये भी जान लेना चाहिए आज तक ये बात साफ़ तोर पर साबित नेही हुआ की दोपहर मे नींद लेना स्वस्थ के लिए अच्छी हे या बुरी हे। क्यूँ की इनसे पेहले आया हुआ सभी सर्वे अलग अलग मत प्रकाश किया हे। किसिने कहा दोपेहर मे नींद लेने से ब्लड सर्क्यूलेशन (Blood Circulation) के समस्या बढ़ति हे। और कुछ नातिजे ने कहा ब्लड सर्क्यूलेशन (Blood Circulation) की समस्या कम हौ जाति हे।

रोज नेही हफ़्ते मे एक दो बार दोपेहर मे नींद लेना स्वस्थ के लिए अच्छा हे

दी टाइम्स ये अध्ययन Switzerland मे 3462 लोगो पर किया पर किया हे। इस अध्ययन मे ये देखा गया था की एक ब्याक्ति हफ़्ते मे कितने दीन दोपहर मे कितने देर तक नींद लेते हे। और इस नींद का असर उस ब्याक्ति के शरीर के उपर कितना पड़ता हे ये देखना।
इस अध्ययन मे देखा गया जो ब्याक्ति हफ्ते मे एक से दो बार नींद लेते हे उनका शरीर और हार्ट अच्छा रेहता हे। और जो ब्याक्ति दोपहर मे ज्यादा नींद लेते हे उनका शरीर पर बुरी असर पड़ती हे।
अगर आप दीन मे ज्यादा नींद लेते हे तो इसका प्रभाब आपके रातके नींद पर पड़ती हे। तब आपका रात का नींद ख़राब हौ जाति हे और आप किसी स्वस्थ समस्या मे पढ़ जाती हे। इस स्थिति को स्लीप एपनिया (Sleep Apnoea) कहते हे।
Heart ko swasth kaise rakhe - दिल को स्वस्थ कैसे रखे


अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा तो इसे अपने दोस्तो के साथ शेयर कीजिए। और आपके मन मे जो भी साबाल और सुझाब हे इस पोस्ट को लेकर उसे कमेंट बॉक्स मे जरुर बाता दीजिए।

Comments